Manjhal Raat

माँझल रात
Author : Rani Laxmi Kumari Chundawat
Language : Rajasthani
Edition : 2020
ISBN : 9789384168438
Publisher : Rajasthani Granthagar

99.00

SKU: 9789384168438 Category:

माँझल रात

भारत रा पैलड़ा राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद डॉ. भगवत सरण उपाध्याय, डॉ. दसरथ शर्मा, लोकनायक जय नारायण व्यास, मुनि जिन विजय अर सुनिति कुमार चटर्जी सरीसा धुरन्धर ई लक्ष्मीकुमारी चूण्डावत री कलम री करामात री कारी मानी है। राजस्थानी भासा री कहाणियां लिखण मै रानीजी रौ धीजै-पतीजै जैडौ धणियाप। आपरी कहाणियां रै बूतै माथै राजस्थानी भासा रै सबद-संसार, भाव-मीठास ने कैवण वाला बातपोंसा सूं सुणियोड़ी, ख्यातां-बातां में बाचियोड़ी अर नवी उपजी बातां ने रानीजी सरावण जोग नवै अटंग ढंग-ढालै लिखी। लिखण री गजब निकेवली आंट रै पांण आपरी कहाणियां रा पात्र साचलका लखावण लागै। लक्ष्मीकुमारी चूण्डावत री कहाणियां री अेक खास घसक आ क उणां मे राजस्थान रै कण कण री आतमा पलका मारै। Manjhal Raat Laxmi Kumari

(रानी लक्ष्मी कुमारी चुण्डावत) Manjhal Raat Laxmi Kumari

click >> अन्य सम्बंधित किताबें
for updates >> Facebook
click >> YouTube कहानियाँ

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Manjhal Raat”

Your email address will not be published. Required fields are marked *