Sisodiya Vansh Ki Kuldevi Baan Mata

सिसोदिया वंश की कुलदेवी बाण माता
Author : Dr. Raghunath Prasad Tiwadi ‘Umang’
Language : Hindi
Edition : 2020
ISBN : 9789387297852
Publisher : Rajasthani Granthagar

100.00

सिसोदिया वंश की कुलदेवी बाण माता Baan Mata Sisodiya Vansh

    • शक्ति की अवधारणा
    • शक्ति क्या है, शक्ति का आशय एवं स्वरूप,शक्ति की उपासना कुल क्या है?, कुलदेवी
    • शिवशक्ति बाणमाता
    • बाण माता के प्रादुर्भाव का कथानक
    • गुहिलोत वंश की पूर्व कुल देवियों (संक्षिप्त विवरण)
    • चामुण्डा, अम्बाजी, नागनेचियाँ माताजी (चक्रेश्वरी माता जी)
    • एकलिंगजी के स्वरूप का विवरण
    • नर्मदा नदी और शिव
    • बाणमाता अन्य शक्ति स्वरूपा माताओं के साथ
    • बाण माता के वाहन एवं अस्त्र-शस्त्र
    • प्रतापगढ़ पैलेस में बाण माताजी
    • चित्तौड़गढ़-केलवाड़ा स्थित बाणमाताजी एवं बाणमाताजी के स्थान, चित्तौड़गढ़ दुर्ग स्थित अन्य माताएँ
    • भैरव
    • गुहिलोत वंश की पूर्व पूजित माताओं का पौराणिक आख्यान चामुण्डा माताजी, अम्बा माताजी, नागनेचिया माताजी
    • गुहिलोत वंश द्वारा पूजित अन्य माताएँ काली : भद्रकाली : कालिका : वरदायिनी माता अन्नपूर्णा माता
    • गुहिलोत वंश के गोत्रादि व शासकों तथा खांपो आदि का विवरण
    • बाण माता की आरती

त्याग, बलिदान, शौर्य और तपस्या की भूमि मेवाड़ का सिसोदिया गुहिलोत वंश जग विख्यात है। इसी वंश की कुलदेवी श्री बाण माताजी है, जिन्हें बायण, ब्रह्माणी और बाणेश्वरी माताजी कहते है। सिसोदिया गहलोत, गुहिल या गहलोत वंश की कुलदेवी बाण माता का मुख्य मंदिर विश्व प्रसिद्ध दुर्ग चित्तौड़गढ़ में स्थित हैं। Baan Mata Sisodiya Vansh

click >> अन्य सम्बन्धित पुस्तकें
click >> YouTube कहानियाँ

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Sisodiya Vansh Ki Kuldevi Baan Mata”

Your email address will not be published.