Bhil Sanskriti

भील संस्कृति
Author : Mohanlal Jod
Language : Hindi
Edition : 2018
ISBN : 9789384406158
Publisher : RG GROUP

200.00

भील संस्कृति : “संस्कृति” शब्द कहते ही मन में भारतीय समाज की उत्सावधर्मी चेतना मूर्त हो जाती है। भारत को विभिन्न संस्कृतियों का देश कहने पर ऐसा ही होता है। संस्कृति का एक स्थूल सा अर्थ वार-त्योंहार, धार्मिंक उत्सव, मिथकों व ईश्वर का प्रभामण्डल, कर्मकाण्ड, नैतिकताओं और आध्यामिता के संदर्भ में समझा-समझाया जाता है लेकिन क्या संस्कृति का दायरा मात्र इतना ही है ? क्या संस्कृति केवल धर्म व अध्यात्म तक ही सीमित है ? यहि हम ‘संस्कृति’ और उसके कार्यों का अन्य अनुशासनें, वैचारिक सारणियों के जरिए देखें तो उसके अर्थ व परिभाषाएं बेहद विस्तृत हो जाती हैं। भील संस्कृति ने मानवीय व्यवहार – प्रतिमानों और जीवन शैली को समेट लिया है। भील संस्कृति में हमें भारतीय संस्कृति का विशिष्ट पहलु उजागर होता दिखाई देता हैं।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Bhil Sanskriti”

Your email address will not be published.