Wo Kon Shakhs Tha Jo Bhar Gaya Mujhme

वो कौन शख्स था जो भर गया मुझमे
Author : Dipti Kulshreshtha
Language : Hindi
ISBN : 9788188757466
Edition : 2017
Publisher : RG GROUP

900.00

वो कौन शख्स था जो भर गया मुझमे… दीप्ति जी की गद्य शैली का साहित्य, तत्सम-निष्ठ हृदय और मानस में सीधी उतरती भाषा का सौन्दर्य इस कृति में अवलोकनीय है। घटनाओं की पकड़, व्यक्तियों का चरित्र, स्थितियों का सही मूल्यांकन, चरित्र की गहराई व समझ, यह सब इस विशालकाय कृति में दृष्टव्य है। यह यों जीवन-कथा है पर एक उपन्यास की प्रकृति लिए हुए है। दीप्ति जी मुख्य रूप से कथाकार और साहित्य चिन्तक हैं। उनका पूरा लेखक व्यक्तित्व इस कृति में उभरा है। अपनी शैली और विषय-वस्तु की दृष्टि से यह एक असाधारण गद्य कृति है। मैं कृति की लेखिका श्रीमती दीप्ति जी को इतनी श्रद्धामय-भावमय सृष्ट सुन्दर कृति-रचना के लिए अनेक-अनेक साधुवाद देता हूँ। मुझे विश्वास है कि इस कृति का साहित्य जगत में भव्य स्वागत होगा।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Wo Kon Shakhs Tha Jo Bhar Gaya Mujhme”

Your email address will not be published. Required fields are marked *