Jaymal Vansh Prakash : Badnor (Mewar) evam Mertiya Rathoron ka Itihas (vol. 1, 2)

जयमल वंश प्रकाश : बदनोर (मेवाड़) एवं मेड़तिया राठौड़ों का इतिहास (भाग 1, 2)
Author : Gopal Singh
Language : Hindi
Edition : 2015
Publisher : RG GROUP

639.00

जयमल वंश प्रकाश : बदनोर (मेवाड़) एवं मेड़तिया राठौड़ों का इतिहास (भाग 1, 2) : जयमल वंश प्रकाश बदनोर मेवाड़ एवं मेड़तियाराठौर्ड़ों का इतिहास भाग 1 व 2 ठा. गोपालसिंह राठौड “राजपूताना राजस्थान विशेषकर मारवाड़-मेवाड़ के इतिहास में मेड़तिया राठौडों का अविस्मरणीय योगदान रहा है । इनकी अद्भुत वीरता, साहस, शौर्य, त्याग और बलिदान को चिरस्थायी बनाने हेतु मेरे पिता श्री ठाकुर गोपाल सिंह जी ने ‘जयमल वंश प्रकाश’ ग्रन्थ में ऐतिहासिक तथ्यों एवं मौलिक स्त्रोतों का विश्लेषण कर तर्कपूर्वक आंकलन प्रस्तुत यिका गया, जो सम्प्रतिकाल में अनुपलब्ध है । प्रथम संस्करण के लम्बे अन्तराल में अनेक नयी ऐतिहासिक जानकारियाँ सामने आई है । अतः मेड़तियों के पाटघर होने से हमारा उत्तरदायित्व मान इस ग्रन्थ के दोनों भागों का संशोधित संस्करण नये रूप मे प्रस्तुत करने का प्रयास किया है ।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Jaymal Vansh Prakash : Badnor (Mewar) evam Mertiya Rathoron ka Itihas (vol. 1, 2)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *