यादवों का बृहत इतिहास (भाग 1, 2) | Yadavon ka Brihat Itihas (Vol. 1, 2)

Author: Jai Narayan Singh
Language: Hindi
ISBN: 9789387297630
Edition: 2019
Publisher: RG GROUP

1,200.00

भाग 1 में यादव वंश का उद्भव, हैहय वंश का विस्तार, सूर्य एवं चन्द्र वंशों का प्रसार, आर्यों का निवास स्थान, वैदिक एवं वैदिकोत्तर काल, त्रेता और द्वापर में यादव, श्रीकृष्ण और उनका युग, महाभारत युद्ध का काल, यादव और गणतन्त्र प्रणाली, यादवों का वृज्जि अथवा वज्जि गणराज्य, यादवों का कलिंग साम्राज्य, यादवों का कलचुरि राजवंश, कलचुरिओं का कर्नाटक राज्य, राष्ट्रकुटों (यादवों) का कन्नौज और बदायूं पर शासन, राष्ट्रकूट यादवों का दक्षिण भारत में शासन, सातवाहन यादव, पल्लव यादव : उनका उद्भव, आन्ध्रप्रदेश के पल्लव यादव, केरल के चेर (यादव) शासक, अय व मुषिक और कुलशेखर यादव, यादवों का ट्रावनकोर राज्य, यादवों की सामाजिक स्थिति, दक्षिण भारत में यादव, यादवों का पांड्य वंश, यादवों का होयसल वंश, यादवों की देवगिरी राज्य, यादवों का विजयनगर साम्राज्य, वडियार यादवों का मैसूर राज्य आदि शीर्षकों पर जानकारी प्रदान की गई है।

भाग 2 में यादव और आभीर एवं अहीर : व्युत्पति एवं सम्बन्ध, यादव वंश की शाखाएं, श्री कृष्ण के पुत्रों के वंशज, गुजरात के यादव शासक (1472-1947 ई.), यादवों का गुप्तवंश, मौखरी/मौखरिया/महांखरियां वंश : उत्पत्ति एवं राजस्थान, उत्तर प्रदेश के मांखरिया, मौखरी सम्राट यशोवर्मन और उसके उत्तराधिकारी, यादवों का पाल राजवंश (625-1150 ई.), यादवों का सैहपुर अथवा सिंहपुर का राजवंश, यादवों का जाजम/जादौं/भाटी राजवंश, जैसलमेर राज्य की स्थापना, राज्य का उत्कर्ष और अन्त, यादवों के करौली और ब्रज जनपद राज्य, अहीरों का रेवाड़ी राज्य, यादव जो जाट हो गए, अहीरों का आवास और विस्तार, धार्मिक विश्वास और रीति रिवाज, विभिन्न राज्यों में प्रमुख यादवगण, समकालीन यादव और राजनीति, यादवों की संस्कृति एवं इतिहास को देन आदि शीर्षकों पर जानकारी प्रदान की गई है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “यादवों का बृहत इतिहास (भाग 1, 2) | Yadavon ka Brihat Itihas (Vol. 1, 2)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *