चौहान पृथ्वीराज तृतीय और उनका युग | Chauhan Prithviraj Tritiya aur unka Yug

Author: Dasharath Sharma
Language: Hindi
Edition: 2015
ISBN: 9789384168179
Publisher: RG GROUP

250.00

SKU: RG222 Categories: ,

पृथ्वीराज चौहान एक राजपूत राजा थे, जिन्होंने 12वी सदी में उत्तरी भारत के दिल्ली और अजमेर साम्राज्यों पर शाशन किया था। पृथ्वीराज चौहान दिल्ली के सिंहासन पर राज करने वाले अंतिम स्वत्रंत हिन्दू शाषक थे। राय पिथोरा के नाम से मशहूर इस राजपूत राजा ने चौहान वंश में जन्म लिया था। पृथ्वीराज चौहान का जन्म 1149 में अजमेर में हुआ था। उनके पिता का नाम सोमेश्वर चौहान और माता का नाम कर्पूरी देवी था।
पृथ्वीराज चौहान बचपन से ही बहुत बहादुर और युद्ध कला में निपुण थे। उन्होंने बचपन से ही शब्द भेदी बाण कला का अभ्यास किया था, जिसमे आवाज के आधार पर वो सटीक निशाना लगाते थे। 1179 में युद्ध में उनके पिता की मौत के बाद चौहान को उत्तराधिकारी घोषित किया गया। उन्होंने दो राजधानियों दिल्ली और अजमेर पर शाषन किया, जो उनको उनके नानाजी अक्रपाल और तोमर वंश के अंगपाल तृतीय ने सौंपी थी। राजा होते हुए उन्होंने अपने साम्राज्य को विस्तार करने के लिए कई अभियान चलाये और एक बहादुर योद्धा के रूप में जाने जाने लगे। उनके मोहम्मद गौरी के साथ युद्ध की महिमा कनौज के राजा जयचंद की बेटी संयुक्ता के पास पहुच गयी…

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “चौहान पृथ्वीराज तृतीय और उनका युग | Chauhan Prithviraj Tritiya aur unka Yug”

Your email address will not be published. Required fields are marked *