संक्षिप्त राजस्थानी साहित्यिक और सांस्कृति कोश | Sankshipt Rajasthani Sahityik Aur Saanskritik Kosh

Author: Bhupatiram Sakariya
Language: Rajasthani

400.00

थोड़ी साव नवी विधावांने छोड़’र आंपणो प्राचीन अर मध्यकालीन साहित्य, प्रत्येक विधा मांय घणो समृद्ध है। उण मांय कोश है, काव्यशास्त्र है अर लूंठो वात साहित्य है। पण आज जैड़ो ‘एनसाइक्लोपीडिया’ नी हो। निष्ठावान प्रयत्न है। इण कोश मांय विशाळ नै समृद्ध राजस्थान री संस्कृति अर साहित्य ने आवरती उगणीसो प्रविष्ठियां है, जिण मांय गढ, नदियां, तीज-तेवार, जूना-नवा साहित्यकार, साहित्यिक विधावां, विशिष्ठ व्यक्ति (हर क्षेत्र रा), पौराणिक पात्र, प्रमुख अलंकार, गुण, दोष, तत्र-पत्रिकावां, विशिष्ठ संस्थावां, घटणावां सगळां रो समावेश है। इणसूं प्रेरणा लेयने बे तीन खंडां रो अेक विशाळ ‘एनसाइक्लोपीडिया-राजस्थान’ वण सके। ओ अेक व्यक्ति रो काम नी व्हेय’र, अेक संस्था रो काम है। तोई आगा गुजरात मांय बैठा निरजोर नै अेक हथ्थे इण महताऊ काम ने करणो नैनी-सूनी वात कोनी। खरेखर, संपादक रे वरसां रो करड़ो परिश्रम श्लाघनीय है।

Please follow and like us:
Follow by Email
Join at Facebook
Join at Facebook
Subscribe YouTube
Follow by Instagram

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “संक्षिप्त राजस्थानी साहित्यिक और सांस्कृति कोश | Sankshipt Rajasthani Sahityik Aur Saanskritik Kosh”

Your email address will not be published. Required fields are marked *