Invitation to Authors

राजस्थानी ग्रन्थागार अच्छे प्रकाशन के लिए लेखकों को सदैव आमंत्रित करता है। राजस्थानी ग्रन्थागार समकालीन/पांडुलिपि/शैक्षिक या गैर-शैक्षिक एवं सामान्य रुचि वाली पुस्तकों के लिए प्रस्ताव का स्वागत करते हैं। पांडुलिपि के सावधानीपूर्वक मूल्यांकन के बाद, यदि पुस्तक निगमन के लिए उपयुक्त पाई जाती है, तो हम इसे प्रकाशित करने में प्रसन्न होंगे।

RAJASTHANI GRANTHAGAR welcomes authors for submission of proposal with Synopsis/Manuscript/Thesis of Academic or Non-Academic and General Interest books for consideration. After careful evaluation of the manuscript, if the book is found suitable for incorporation, we would be pleased to published it.

राजस्थानी ग्रन्थागार देश-विदेश के लेखको तथा संस्थाओ के साथ साझेदारी कर भी पुस्तके प्रकाशित करता है। आप प्रकाशन कार्यक्रम में भी भागीदार बन सकते हैं, जो कि लाभ साझाकरण के आधार पर आधारित है। राजस्थान इतिहास, साहित्य एवं संस्कृति सम्बंधित पुस्तके प्रकाशित करवाने हेतु संपर्क करे।

Rajasthani Granthagar publishes books by collaborating with writers and institutions of the country and abroad. You can also become a partner in the publishing program, which is based on profit sharing basis. Please contact to publish books related to Rajasthan History, Literature and Culture.